Inspirational Quotes| Inspirational Quotes About Life For Work

Inspirational Quotes Inspirational Quotes About Life, For Work, Merits of success कामयाबी के गुण

Inspirational Quotes Inspirational Quotes About Life, For Work, Merits of success

चाहे कोई हमारी बात समझे या न समझे सदा संक्षेप अच्छा रहता है

एकाग्रता एक कला है ,जिसके आते ही सफलता निश्चित हो जाती है ,कर्म ,भक्ति ,ज्ञान ,योग और सम्पूर्ण साधनों की सिद्धि का मूलमंत्र एकाग्रता है |

दीनानाथ दिनेश (गीताज्ञान )

अपने लक्ष्य को न भूलो ,वरन जो कुछ मिल जाएगा उसी में संतोष मानने लगोगे |

स्वामी विवेकानंद

आप जब सफलता की ओर पीठ कर लेते हैं परिणामों की चिंता नहीं करते ; सामने आये हुए कर्तव्य पर अपनी शक्ति एकाग्र करते हैं तब सफलता आपके पीछे -पीछे आती है |

संत आसाराम बापू

शक्तिशाली होने पर भी क्षमा करने वाला और निर्धन होने पर भी दान देने वाला स्वर्ग से ऊपर स्थान पाता है |

विदुर नीति

कुछ पाने के लिए कुछ त्याग करना पड़ता है |

रामलाल

आशावादी हर कठिनाई में अवसर देखता है ,पर निराशावादी प्रत्येक अवसर में कठिनाइयाँ ही खोजता है |

रोमा

जो पढ़ते हो ,उसको अमल में लाना सीखो ,यही उन्नति का उपाय है |

स्वामी रामतीर्थ

नम्रता और मीठे वचन ही मनुष्य के आभूषण हैं | शोष सब नाममात्र के अलंकार हैं |

संत तिरुवल्लुवर

छोटे -छोटे काम करना और उन्हें निपटाते चलना ,बड़े -बड़े कामों की योजनाएँ बनाते रहने से कहीं अधिक अच्छा है |

पीटर मार्शल

श्रेष्ठ पुरुष बोलता कम है ,पर व्यवहार मेंअधिक सक्रियता दिखलाता है |

कन्फ्यूशियस

वही काम करना ठीक है ,जिसके करने पर पछताना न पड़े |

गौतम बुद्ध

अभिवादन से प्रेम और सदभावना का निर्माण होता है | प्रथम अभिवादन करने वाला व्यक्ति अधिक सम्माननीय होता है |

हजरत मुहम्मद

जो काम तुम्हें कल करना है उसे आज कर डालो और जो आज करना है उसे अभी कर डालो | क्षणभर में प्रलय हो जाएगी फिर उसे कब करोगे ?

कबीर

यह बात बहुत गौण है कि दूसरे लोग तुम्हारे विषय में क्या सोचते हैं और क्या कहते हैं | मुख्य बात यह है कि तुम अपने विवेक को अपना शिक्षक बनाओ ,शब्दों का कर्म से और कर्म शब्दों से मेल कराओ |

शेक्सपियर

यदि हमारी इच्छा -शक्ति शुद्ध और कमजोर होगी तो हमारी मानसिक शक्तियों का कार्य भी वैसा ही होगा |

स्वेत मार्डेन

जब तक मन नहीं जीता जाता ,राग -द्वेष शान्त नहीं होते ,तब तक मनुष्य इन्द्रियों का गुलाम बना रहता है |

विनोबा भावे

सच्चा प्रयास कभी निष्फल नहीं होता |

चिलसन

अपनी अभिलाषाओं को वशीभूत कर लेने के बाद मन को जितनी देर तक चाहो एकाग्र किया जा सकता है |

स्वामी रामतीर्थ

वही उन्नति कर सकता है ,जो स्वयं अपने को उपदेश देता है |

स्वामी रामतीर्थ

नेक होना तमाम नेकियों का खुलासा है |

सुकरात

पूर्ण मनुष्य वही है जो पूर्ण होने पर और बड़ा होने पर भी नम्र रहता हो और सेवा में तत्पर रहता हो |

शब्दातरी

तुम पृथ्वी के नमक हो ,परंतु यदि नमक अपना स्वाद खो बैठे तो उसे किस वस्तु से नमकीन किया जाएगा |

नवविधान

भिक्षुओं | संसार में दो व्यक्ति दुर्लभ हैं ,कौन से दो | तृप्त और तृप्तिप्रदाता |

अंगुत्तर निकाय

सहयोग प्रेम की सामान्य अभिव्यक्ति के अतिरिक्त कुछ नहीं है |

रामतीर्थ

जो हानि हो चुकी है उसके लिए शोक करना अधिक हानि को निमंत्रित करना है |

शेक्सपियर

मुक्ति चाहने वाले विरक्त लोगों का भी अच्छे लोगों के प्रति पक्षपात होता है |

भारवि

यदि जीवन में उन्नति करने और बुद्धिमानी की कोई बात है तो वह एकाग्रता है और यदि खराब बात है तो वह जिससे अपनी भक्ति को बिखेर चाहता है |

डमररान

Freedom of thought and action is the only means of life, progress and efficient love. विचार और कार्य की स्वतंत्रता ही जीवन ,उन्नति और कुशल प्रेम का एक मात्र साधन है |

विवेकानंद

सफलता क्रम से अ,ब ,स ,यानि अवसर ,बल और साहस है |

लकमेन

असफलता के विचार में सफलता का उत्पन होना उतना ही असंभव है जितना बबूल के पेड़ से गुलाब के फूल का निकलना |

स्वेट मार्डेन
Freedom of thought and action is the only means of life progress and efficient love

यदि तुम जितना कमाते हो और उससे कम खर्च करना जानते हो , तो समझ लो तुम्हारे पास पारस पत्थर है |

जमीन पर इतना फसाद न फैलाओ ,अमन और चैन से रहो ,सलामती में दाखिल हो जाओगे |

उस फूल की तरह बनो जो काँटों के साथ भी मुस्कराता रहता है |

उस पेड़ की तरह बनो जो अपने नीचे बैठने वाले हर अच्छे बुरे इन्सान को छाया देता है |

मुसीबतों का मुकाबला ,सब्र और नेमतों की हिफाजत से करो |

दौलत होने से आदमी अपने आप को भूल जाता है और दौलत न होने से लोग उसे भूल जाते हैं |

आज़ाद ख्याल होना कोई बुरी बात नहीं ,आवारा मिज़ाज़ होना जरूर बुरी बात है |

जिन्दगी और सेहत थोड़ी आमदनी में भी कायम रखी जा सकती है |

पहाड़ों की चोटियाँ बनो ,जो हर वक्त एक दूसरे को देखती हैं | गड्ढे न बनो जो एक दूसरे को देख ही न सकें |

मुकदर खुदा ने बनाया है मगर उसे रोशन या तरीक रखना इन्सान के अपने हाथ में है |

अगर सच्ची कामयाबी चाहते हो तो लगाकर मेहनत करो |

दुनिया के लिए उतनी ही मेहनत कर कि जितना तुझे यहाँ रहना है

सच्ची कामयाबी ही मेहनत का दूसरा नाम है |

मेहनत वह सोने की कुन्जी है जो दौलत के दरवाज़े खोल देती है |

मेहनत की जाए तो पत्थर भी हीरा बन जाता है |

अल्लाह किसी की भी मेहनत को बेकार नहीं करता |

नहीं करना तो आराम नहीं करो और करना है तो मेहनत करो |

अगर किसी वजह से इल्म हासिल नहीं कर सके तो मेहनत का वक्त तो अभी भी है यानी मेहनत तो जाहिल भी कर सकते हैं |

ज़िन्दगी एक गहरा समन्दर है और कामयाबी के मोती उसकी तह में होते हैं | जो जिन्दगी में कामयाबी होना चाहते हैं वह उसकी गहराइयों में उतर कर खुशियों और कामयाबी के मोती तलाश करते हैं | किनारे पर खड़े रह कर मोतियों की उम्मीद करने वाले ज़िन्दगी में कभी भी कामयाब नहीं हो सकते | जो गहराइयों में उतरने का हौसला रखते हैं वही कामयाब व कामरान रहते हैं |

जब कोई बात सोचो तो अपनी सोच ऐसी रखो कि तुहारी बात से किसी दूसरे को तकलीफ न पहुँचे | तुम्हारी सोच इतनी पाकीज़ा हो कि अगर घर बनाने की सोचो तो किसी गरीब का झोपड़ा न गिरे और अगर किसी से मुकाबला करने की सोच रखते हो तो इतना ऊँचा मत उड़ो कि पंख भी साथ न दे सकें | मुकाबला करो तो अच्छे काम के लिए न कि दौलत के लिए | दूसरों में बुराइयां तलाश मत करो ,उसमें अच्छाइयाँ भी हो सकती हैं | बस जब भी सोचो तो अच्छी बात सोचो क्याकिं अच्छी सोच हमें अच्छा माहौल देती है |

अगर दुःखों का दरिया पार करना चाहते हो तो आँसुओं को ज़ब्त करने का तरीका अपनाओ |

मौत एक बेखबर साथी है जिसका कोई वक्त नहीं है |

जरूरत ,ख्वाहिश और कोशिश से नतीजा पैदा होता है |

उस चीज की तरफ देखो जो तुम्हारे पास नहीं |

अपने आप को चाँद व सूरज की तरह वक्त का पाबंद बनाओ ,ईशा अल्लाह कामयाबी आपके कदम चूमेगी |

चार जवाहर ऐसे हैं जिन्हें चार चीजें खत्म कर देती हैं | वो जवाहर हैं ,अक्ल ,धर्म (दीन ),शर्म और अमल | गुस्सा अक्ल को,जलन धर्म को ,लालच शर्म को और चुगल अमल को खा जाता है |

So much to God that God

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *